BollywoodHindiPatriotic

Bharat Ka Rahnewala – Lyrics

Singer – Mahendra Kapoor
Song Lyricists – Indeevar (Shyamalal Babu Rai)
Music Composer – Anandji Virji Shah, Kalyanji Virji Shah
Music Director – Anandji Virji Shah, Kalyanji Virji Shah (Anandji, Kalyanji)

Movie – Purab Aur Pachhim
Director – Manoj Kumar
Starring – Manoj Kumar, Saira Banu, Ashok Kumar, Pran, Prem Chopra, Nirupa Roy, Vinod Khanna, Bharati, Manmohan, Kamini Kaushal

Bharat Ka Rahnewala Hindi Lyrics

जब जीरो दिया मेरे भारत ने
भारत ने मेरे भारत ने

दुनिया को तब गिनती आयी
तारों की भाषा भारत ने

दुनिया को पहले सिखलायी
देता ना दशमलव भारत तो

यूँ चाँद पे जाना मुश्किल था
धरती और चाँद की दूरी का
अंदाज़ा लगाना मुश्किल था

सभ्यता जहाँ पहले आयी
सभ्यता जहाँ पहले आयी

पहले जनमी है जहाँ पे कला
अपना भारत वो भारत है

जिसके पीछे संसार चला
संसार चला और आगे बढ़ा

यूँ आगे बढ़ा बढ़ता ही गया
भगवान करे ये और बढ़े

बढ़ता ही रहे और फूले-फले
बढ़ता ही रहे और फूले-फले

चुप क्यों हो गए और सुनाओ

हम्म हो हो हो…
है प्रीत जहाँ की रीत सदा..
है प्रीत जहाँ की रीत सदा

मैं गीत वहाँ के गाता हूँ
भारत का रहने वाला हूँ

भारत की बात सुनाता हूँ
है प्रीत जहाँ की रीत सदा
हो हो हो…

काले-गोरे का भेद नहीं
हर दिल से हमारा नाता है

कुछ और न आता हो हमको
हमें प्यार निभाना आता है

जिसे मान चुकी सारी दुनिया
हो जिसे मान चुकी सारी दुनिया

मैं बात, मैं बात वो ही दोहराता हूँ
भारत का रहने वाला हूँ

भारत की बात सुनाता हूँ
है प्रीत जहाँ की रीत सदा

जीते हो किसी ने देश तो क्या
हमने तो दिलों को जीता है..

जहाँ राम अभी तक है नर में
नारी में अभी तक सीता है

इतने पावन हैं लोग जहाँ
हो इतने पावन हैं लोग जहाँ

मैं नित-नित, मैं नित-नित शीश झुकाता हूँ
भारत का रहने वाला हूँ

भारत की बात सुनाता हूँ
हो हो हो…

इतनी ममता नदियों को भी
जहाँ माता कह के बुलाते हैं
हो…

इतना आदर इन्सान तो क्या
पत्थर भी पूजे जातें हैं..

उस धरती पे मैंने जनम लिया
हो उस धरती पे मैंने जनम लिया
ये सोच, ये सोच के मैं इतराता हूँ

भारत का रहने वाला हूँ
भारत की बात सुनाता हूँ
है प्रीत जहाँ की रीत सदा हो हो हो…

Bharat Ka Rahnewala – Lyrics

Jab zero diyaa mere bharat ne
Duniyaan ko tab ginatee aayee

Taaron kee bhaashaa bharat ne
Duniyaan ko pahale sikhalaayee
Detaa naa dashamal bharat to

Yoo chaand pe jaanaa mushkil thaa
Dharaatee aaur chaand dooree kaa

Andaajaa lagaanaa mushkil thaa
Sabhyataa jahaa pahaale aayee
Pahale janamee hain jahaape kalaa

Apanaa bharat wo bharat hai
Jis ke pichhe sansaar chalaa
Sansaar chalaa aaur aage badhaa

Yoo aage badhaa, badhataa hee gayaa
Bhagawaan kare ye aaur badhe
Badhataa hee rahe aaur foole fale

Hai pareet jahaa kee reet sadaa
Main geet wahaa ke gaataa hoon

Bharat kaa rahane waalaa hoon
Bharat kee baat sunaataa hoon

Kaale gore kaa bhed nahee
Har dil se humaaraa naataa hai

Kuchh aaur naa aataa ho hum ko
Hume pyaar nibhaanaa aataa hai

Jise maan chookee saaree duniyaa
Main baat wahee doharataa hoon

Bharat kaa rahane waalaa hoon
Bharat kee baat sunaataa hoon

Jeete ho kisee ne desh to kyaa
Hum ne to dilon ko jeetaa hai

Jahaa raam abhee tak hain nar mein
Naaree mein abhee tak seetaa hai

Kitane paawan hain log jahaa
Main neet neet sheesh jhookaataa hoon

Bharat kaa rahane waalaa hoon
Bharat kee baat sunaataa hoon

Itanee mamataa nadiyon ko bhee
Jahaa maataa kah ke bulaate hai

Itanaa aadar insaan to kyaa
Patthar bhee pooje jaate hai

Us dharatee pe maine janam liyaa
Yeh soch ke main itaraataa hoon

Bharat kaa rahane waalaa hoon
Bharat kee baat sunaataa hoon.

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also
Close
Back to top button